Friday , November 15 2019, 7:47 AM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / राज्य / मध्य प्रदेश / कमलनाथ ने कहा- 21 लाख किसानों का कर्ज माफ हुआ, झूठ बोल रहे भाजपा नेता

कमलनाथ ने कहा- 21 लाख किसानों का कर्ज माफ हुआ, झूठ बोल रहे भाजपा नेता

भोपाल, चार नवंबर (भाषा) मध्यप्रदेश में भाजपा के किसान आक्रोश आंदोलन के संबंध में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भाजपा नेताओं पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए सोमवार को दावा किया कि प्रदेश सरकार ने 21 लाख किसानों का फसल ऋण माफ कर दिया है। भाजपा के किसान आक्रोश आंदोलन के जवाब में कांग्रेस ने भी प्रदेश में कई स्थानों पर केन्द्र की भाजपा नीत राजग सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया। कांग्रेस ने प्रदेश के बाढ़ एवं अतिवर्षा पीड़ितों को राहत पैकेज शीघ्र देने की मांग करते हुए केन्द्र सरकार से इस मुद्दे पर मध्यप्रदेश के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया। भाजपा के आंदोलन पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कमलनाथ ने सोमवार को लगातार कई ट्वीट किये। उन्होंने कहा, ‘‘ आज भाजपा के प्रदर्शन से प्रदेश के कम से कम दो से ढाई करोड़ लोगों को यह विश्वास हो गया होगा कि भाजपा के नेता कितना झूठ बोलते हैं। वह इसलिए क्योंकि जिन 21 लाख किसानों का कर्जा माफ हुआ है, वो और उनके परिवार वाले को मिलाकर लगभग एक करोड़ का आँकड़ा होता है। एक करोड़ लोगों के एक-दो करीबी परिचित मान लें तो प्रदेश के तकरीबन ढाई करोड़ लोगों को यह भली-भाँति जानकारी है कि किसानों का कर्ज कांग्रेस सरकार ने माफ कर दिया है। उन्होंने ट्वीट में कहा, ‘‘ भाजपा के नेताओं को यह सोचना चाहिए कि वह ढाई करोड़ लोग आज उनके परोसे झूठ के बारे में क्या सोचते होंगे ? हम इसीलिए कहते हैं कि झूठ और कलाकारी की राजनीति ज्यादा दिन नहीं चलती है।’’ कांग्रेस नेताओं ने विरोध प्रदर्शन के बाद भोपाल में प्रदेश के राज्यपाल को एक ज्ञापन दिया। जिला कांग्रेस अध्यक्ष कैलाश मिश्रा ने केन्द्र सरकार पर प्रदेश के प्रति उदासीनता का आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जिला मुख्यालयों के साथ भोपाल के रोशनपुर चौराहे पर पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुरेश पचौरी के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। मिश्रा ने बताया, ‘‘प्रदेश के कुल 52 जिलों में से 39 जिले अतिवर्षा से प्रभावित रहे हैं। प्रदेश में 60.47 हेक्टयर क्षेत्र में 16,270 करोड़ रुपये मूल्य की फसलें खराब हो गयीं तथा 1.20 लाख मकान और लगभग 11,000 किलोमीटर सड़कें सहित अन्य बुनियादी ढांचा क्षतिग्रस्त हुआ है।’’ उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय आपदा राहत कोष से प्रदेश को तुरंत 6,621.28 करोड़ रुपये की सहायता राशि उपलब्ध कराने के लिये केन्द्र सरकार को कई दफा आग्रह किया गया है। उन्होंने केन्द्र की मोदी सरकार पर भेदभाव का आरोप लगाते हुए कहा कि बाढ़ राहत के मामले में केन्द्र द्वारा बिहार और कर्नाटक प्रदेश की तुलना में मध्यप्रदेश के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व वाली सरकार पर किसानों से किए गए वादों को पूरा नहीं करने का आरोप लगाते हुए भाजपा ने सोमवार को किसान आक्रोश आंदोलन किया।

Check Also

वीएचपी को उम्मीद, श्रीराम जन्मभूमि न्यास के डिजाइन के मुताबिक ही होगा मंदिर निर्माण

इंदौर/अहमदाबाद अयोध्या मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले का स्वागत करते हुए विश्व हिन्दू परिषद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *