Tuesday , September 17 2019, 4:32 PM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / राज्य / जम्मू-कश्मीर / कश्मीर में हालात शांतिपूर्ण, सामान्य स्थिति होने में लगेगा थोड़ा और वक्त: DGP

कश्मीर में हालात शांतिपूर्ण, सामान्य स्थिति होने में लगेगा थोड़ा और वक्त: DGP

श्रीनगर
अनुच्छेद 370 का विशेष दर्जा खत्म होने के बाद की कानून व्यवस्था की स्थिति पर डीजीपी ने मंगलवार को कई महत्वपूर्ण जानकारियां साझा की हैं। हमारे सहयोगी चैनल
टाइम्स नाउ से बातचीत के दौरान ने कहा है कि कश्मीर घाटी में बीते 35 दिनों में हालात शांतिपूर्ण रहे हैं और स्थितियों में सुधार हुआ है। हालांकि डीजीपी ने यह भी कहा कि घाटी में हालात सामान्य होने में अभी थोड़ा और वक्त लगेगा।

मंगलवार शाम अपनी खास बातचीत के दौरान डीजीपी ने कहा कि कश्मीर के बीते 35 दिन घाटी के तमाम इलाकों में कानून व्यवस्था की अच्छी स्थिति देखने को मिली है। मैं कहना चाहता हूं कि कश्मीर में शांतिपूर्ण हालात हैं, लेकिन सब बिल्कुल सामान्य है यह कहना जल्दबाजी होगी। सामान्य हालात तब कहे जाएंगे, जब घाटी के सभी बाजारों को खुलवा दिया जाएगा। डीजीपी ने कहा कि कश्मीर के तमाम इलाकों में 60 से 70 फीसदी ट्रैफिक सड़कों पर देखने को मिल रहा है। कश्मीर के 90 फीसदी इलाकों में से पाबंदियां हटा ली गई हैं और सभी टेलिफोन एक्सचेंज में सेवाओं को बहाल कर दिया गया है। डीजीपी ने कहा कि जम्मू संभाग के सभी हिस्सों में किसी भी प्रकार की पाबंदी नहीं है और यहां हालात पूरी तरह से सामान्य हैं।

इस सवाल पर कि घाटी में कितने लोग अब भी पुलिस हिरासत में हैं, डीजीपी ने कहा कि घाटी में कानून व्यवस्था की स्थितियों के कारण हिरासत में लिया गया है। इनमें कई कट्टरवादी लोग और पत्थरबाज शामिल हैं, जिनसे घाटी की कानून व्यवस्था को प्रभावित होने का खतरा था। डीजीपी ने कहा कि शुरुआती तौर पर कश्मीर में 3000 लोगों को हिरासत किया गया था, जिनमें से एक बड़ी संख्या को रिहा कर दिया गया। इसके अलावा कई लोगों को एहतियात के तौर पर बाहर ना निकलने के लिए कहा गया है।

पहले भी लगती रही है इंटरनेट और मोबाइल सेवा पर रोक
घाटी में मोबाइल, इंटरनेट सेवा और केबल टीवी के बंद होने के सवाल पर डीजीपी ने कहा कि पहले भी तमाम ऑपरेशंस और मुठभेड़ों के समय ऐसी पाबंदियां लगती रही हैं। फिलहाल अफवाहों को रोकने और पाकिस्तान की शह पर किसी उन्माद को फैलने से रोकने के लिए एहतियात के तौर पर इंटरनेट और मोबाइल सेवाओं को बंद किया गया है। हालांकि घाटी में सभी टेलिफोन एक्सचेंज काम कर रहे हैं। इसके अलावा घाटी के दो जिलों समेत जम्मू और लद्दाख के इलाकों में मोबाइल सेवा चालू हैं। जिन इलाकों में पाबंदियां लगी हैं, वहां लोगों की सुरक्षा और कानून व्यवस्था की स्थितियों के मद्देनजर ऐसा किया गया है।

इंटरनैशनल मीडिया की रिपोर्ट्स का किया खंडन
अंतरराष्ट्रीय मीडिया द्वारा कश्मीर को लेकर की गई रिपोर्टिंग पर डीजीपी ने कहा कि कश्मीर घाटी में किसी भी व्यक्ति के साथ कोई ज्यादती नहीं की गई है। कुछ मीडिया हाउस द्वारा गलत रिपोर्टिंग करते हुए ऐसी खबरें दिखाई गई हैं। कुछ रिपोर्ट्स में कहीं और की फोटो को कश्मीर की फोटो बताया गया है। ऐसी गैर-जिम्मेदारी भरी रिपोर्टिंग का सभी को संज्ञान लेना चाहिए, क्योंकि हम अपने स्तर पर हालात सामान्य करने की हर संभव कोशिश कर कर रहे हैं। बता दें कि डीजीपी ने यह बयान उस मीडिया रिपोर्ट्स पर दिया है, जिनमें कश्मीर के हालात सामान्य ना होने और सुरक्षाबलों पर यहां के लोगों के साथ ज्यादती करने के आरोप लगाए गए थे।

Check Also

जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी सात दिनों की हिरासत में भेजे गए

Share this on WhatsApp जम्मू, 13 सितंबर (भाषा) जम्मू कश्मीर के कठुआ जिले में गिरफ्तार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *