Tuesday , October 15 2019, 4:21 PM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / राजनीति / कार्यकर्ताओं को चुनावी मंत्र देंगे सीएम, 300 जगहों पर पूर्वांचल जनसंवाद भी

कार्यकर्ताओं को चुनावी मंत्र देंगे सीएम, 300 जगहों पर पूर्वांचल जनसंवाद भी

नई दिल्ली
आम आदमी पार्टी (आप) ने विधानसभा चुनावों को लेकर इस महीने संगठन पर फोकस करने की योजना बनाई है। 62 विधानसभाओं में जनसंवाद यात्रा पूरी करने के बाद 16 से 23 अक्टूबर तक जिला कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित करने की तैयारी है। आप के राष्ट्रीय संयोजक और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल 14 जिला सम्मेलन को संबोधित करेंगे। वह कार्यकर्ताओं से दिल्ली सरकार के कामकाज को लोगों तक पहुंचाने को कहेंगे। पार्टी ने 45 दिनों का कार्यक्रम भी तैयार किया है। 300 ऐसे पोलिंग स्टेशनों को चुना है, जहां पूर्वांचली बड़ी संख्या में रहते हैं। इसी तरह एससी-एसटी और अल्पसंख्यक प्रकोष्ट के साथ मिलकर जनसंवाद कार्यक्रम को आगे बढ़ाया जाएगा।

आप के प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने बताया कि हर लोकसभा क्षेत्र में दो-दो जिला सम्मेलन होंगे। शुरुआत पश्चिमी दिल्ली से होगी। वहां 16 अक्टूबर को नजफगढ़ और तिलक नगर में सम्मेलन होगा। 18 अक्टूबर को रोहिणी और बादली, 19 को महरौली और संगम विहार में सम्मेलन होगा। 21 अक्टूबर को बाबरपुर और करावल नगर, 22 को आदर्श नगर और चांदनी चौक, 23 को करोल बाग और नई दिल्ली में बूथ लेवल पर कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा। सम्मेलन में अरविंद केजरीवाल कार्यकर्ताओं को विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी की योजनाओं और चुनावी रणनीति के बारे में बताएंगे। हर सम्मेलन में विधायक, लोकसभा चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी, जिला, मंडल और बूथ स्तर के कार्यकर्ता होंगे। आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने बताया कि अभी पूर्वांचल जनसंवाद के लिए 300 बैठकों का कार्यक्रम तय किया गया है, जो 6 अक्टूबर से शुरू होकर 20 नवंबर तक चलेगा। उन्होंने बताया कि 150 बैठकों में वह भी मौजूद रहेंगे।

‘लोकसभा चुनाव के बाद बदला माहौल’
गोपाल राय ने दावा किया कि लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद जो नकारात्मक माहौल था, अब वह पूरी तरह से बदल गया है। विधानसभा चुनाव में पार्टी फिर से बड़ी जीत हासिल करेगी। संजय सिंह तो 2015 वाली जीत दोहराने का दावा कर रहे हैं। उनका कहना है कि आप इस चुनाव में पॉजिटिव कैंपेन करेगी और केजरीवाल सरकार की समाज के सभी वर्गों के लिए लागू की गई योजनाओं और कामों के दम पर यह चुनाव लड़ेगी।

बीजेपी पर डर्टी पॉलिटिक्स करने का आरोप
संजय सिंह ने कहा कि बीजेपी डर्टी पॉलिटिक्स कर रही है। विधानसभा चुनाव डर्टी पॉलिटिक्स और पॉजिटिव पॉलिटिक्स के बीच होगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी के पास ना तो कोई चेहरा है और ना ही कोई मुद्दा। यही कारण है कि वह बिना सिर पैर के मुद्दे उठा रही है। सिंह ने कहा कि 2015 में आप ने 49 दिनों के कामकाज के आधार पर चुनाव लड़ा था। अब पांच साल के कामकाज के आधार पर पार्टी जनता के बीच जाएगी। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय मुद्दों का इस चुनाव पर असर नहीं पड़ेगा, लेकिन अगर बीजेपी महंगाई, बेरोजगारी, आर्थिक हालात जैसे मुद्दे उठाती है, तो पार्टी इन मुद्दों पर अपना पक्ष रखेगी। उन्होंने कहा कि धारा 370 पर आप ने समर्थन किया था। राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट से फैसला आना है। इन मुद्दों का दिल्ली के चुनाव पर असर नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली में कांग्रेस की स्थिति ‘एक थी कांग्रेस’ वाली हो गई है।

Check Also

प्रियंका गांधी की 'पाठशाला', सड़क से संसद लड़ेंगे कांग्रेसी

लखनऊ बीते तीन दशक से उत्तर प्रदेश की सत्ता से बेदखल अब नई टीम और …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *