Wednesday , October 16 2019, 6:10 PM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / अन्य समाचार / खाना नहीं देतीं राबड़ी, बहू ऐश्‍वर्या के गंभीर आरोप

खाना नहीं देतीं राबड़ी, बहू ऐश्‍वर्या के गंभीर आरोप

पटना
बिहार के पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजप्रताप यादव और उनकी पत्नी ऐश्वर्या के बीच का झगड़ा अब थाने की चौखट तक पहुंच गया है। तेजप्रताप यादव और ऐश्वर्या के बीच बीते कई महीनों से जारी कलह के बीच रविवार को राबड़ी देवी के पटना स्थित आवास पर जमकर विवाद हुआ। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ऐश्वर्या और तेजप्रताप के परिवार के बीच हुए विवाद के कारण स्थिति इतनी बिगड़ी कि पुलिस को इस मामले में हस्तक्षेप करना पड़ा। बता दें कि तेजप्रताप और ऐश्वर्या ने कोर्ट में तलाक की अर्जी दाखिल की है और यह मामला फिलहाल लंबित है।

पढ़ें:
रिपोर्ट्स के मुताबिक, रविवार को हुए विवाद से पहले ऐश्वर्या के पिता चंद्रिका राय अपनी पत्नी के साथ बेटी के ससुराल पहुंचे थे। इस दौरान ऐश्वर्या ने तेजप्रताप की बहन मीसा भारती और उनकी मां राबड़ी पर उनके साथ दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया। ऐश्वर्या ने महिला हेल्पलाइन में शिकायत दर्ज कराते हुए कहा कि राबड़ी देवी तथा बड़ी ननद व राज्यसभा सदस्य मीसा भारती ने मिलकर उन्हें घर से निकाल दिया।

खाना ना देने और प्रताड़ित करने का आरोप
इस शिकायत के आधार पर हेल्पलाइन की अधिकारी प्रमिला ऐश्वर्या के माता-पिता सहित परिवार के अन्य सदस्यों की उपस्थिति में जांच के लिए पटना के दस सकुर्लर रोड स्थित राबड़ी देवी के सरकारी आवास पर पहुंची हैं। ऐश्वर्या ने राबड़ी देवी और मीसा पर उन्हें खाना ना देने और ससुराल में प्रताड़ित करने का आरोप भी लगाया है। इस मामले में फिलहाल परिवार के लोग आपस में बैठकर बातचीत कर रहे हैं।

सामने आया था ऐश्वर्या का विडियो
बता दें कि हाल ही में ऐश्वर्या का एक विडियो भी मीडिया के सामने आया था। इस विडियो में ऐश्वर्या राबड़ी के घर से रोते हुए निकलते दिखी थीं। इस वक्त भी यह कयास लगाए जा रहे थे कि ऐश्वर्या और तेजप्रताप के बीच सबकुछ ठीक नहीं है। हालांकि तब दोनों ने इस मामले में कोई भी बयान नहीं दिया था।

कोर्ट में तलाक की अर्जी
ने शादी के छह महीने बाद ही पिछले साल मई में तलाक की अर्जी दायर की थी। यादव के इस फैसले पर उनके परिवार ने कड़ी आपत्ति जताई थी, जो ऐश्वर्या के साथ खड़े थे। ऐश्वर्या ने दिल्ली से मैनेजमेंट में स्नातक किया है और उनके दादा दरोगा प्रसाद राय 1970 के दशक में बिहार के मुख्यमंत्री रहे थे। चारा घोटाला मामलों में रांची में जेल की सजा काट रहे लालू द्वारा अपने बेटे को तलाक की अर्जी वापस लेने के लिए रजामंद करने के कई प्रयासों का भी कोई नतीजा नहीं निकला।

(समाचार एजेंसी पीटीआई-भाषा से इनपुट्स के साथ)

Check Also

घाटी में हथियार सप्लाइ नहीं कर पा रहा पाक: सेना

श्रीनगर जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटते ही आतंकियों की कमर टूट गई है। सुरक्षाबलों की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *