Tuesday , October 15 2019, 5:24 PM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / राज्य / गुजरात / गुजरातः रेप के सबूत मिटाने के लिए नवजात को जिंदा दफनाया, केस दर्ज

गुजरातः रेप के सबूत मिटाने के लिए नवजात को जिंदा दफनाया, केस दर्ज

सूरत
गुजरात के सूरत जिले में एक हैरान कर देने वाला वाकया सामने आया है। यहां एक 17 वर्षीय नाबालिग किशोरी के साथ के सबूत मिटाने के लिए 4 लोगों ने कथित तौर पर को जिंदा दफन कर दिया। पीड़िता की मां ने मामले को लेकर पलसाना थाने में शिकायत दर्ज कराई है। सभी आरोपी फरार हैं।

शादी का झांसा देकर बनाए संबंध
अपनी शिकायत में पीड़िता की मां ने पुलिस को बताया कि आरोपी अशोक राठौड़ ने दो साल पहले उनकी बेटी के साथ दोस्ती की थी। इसके बाद कथित तौर पर राठौड़ ने अक्टूबर 2017 में एक फार्म पर पीड़िता के साथ रेप किया। किशोरी की मां ने बताया कि शादी का झांसा देकर आरोपी ने बाद में कई बार पीड़िता के साथ संबंध बनाए। साल 2018 में किशोरी ने राठौड़ को बताया कि वह प्रेगनेंट है। इसके बाद राठौड़ ने उससे वादा किया कि वह बच्चे की जिम्मेदारी लेगा।

जून में नाबालिग ने दिया बच्चे को जन्म
तीन महीने पहले पीड़िता की मां को जब सच्चाई का पता चला तो वह उसे लेकर राठौड़ के पास गई। तब राठौड़ ने बच्चे का पिता होने से साफ इनकार कर दिया। इसी बीच जून में राठौड़ का एक कर्मचारी महेश पटेल किशोरी के घर आया और उसे कुछ मेडिकल जांच के लिए बारदोली ले गया। वहां से डॉक्टरों ने उसे सूरत रिफर कर दिया। जून में नाबालिग ने एक बच्चे को जन्म दिया।

नवजात को जिंदा दफनाया
थाने में दर्ज शिकायत के मुताबिक, डॉक्टर और अन्य आरोपियों ने मिलकर उस नवजात शिशु को सूरत से 20 किमी दूर बालेश्वर गांव में जिंदा दफना दिया। पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है और फरार आरोपियों की तलाश में जुटी है।

Check Also

प्रेम प्रसंग को लेकर दो परिवारों के संघर्ष में 10 घायल, 20 हिरासत में

अहमदाबाद, नौ अक्टूबर (भाषा) राजकोट जिले के विंछिया कस्बे में कोली समुदाय के दो परिवार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *