Wednesday , October 16 2019, 5:24 PM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / क्राइम / चिन्मयानंद केस: छात्रा की जमानत अर्जी पर सुनवाई 30 सितंबर को

चिन्मयानंद केस: छात्रा की जमानत अर्जी पर सुनवाई 30 सितंबर को

लखनऊ
पूर्व केंद्रीय मंत्री से रंगदारी मांगने के आरोप में गिरफ्तार छात्रा की जमानत अर्जी गुरुवार को शाहजहांपुर के जिला जज की अदालत में दाखिल की गई। छात्रा के अधिवक्ता के मुताबिक, अदालत ने अर्जी पर सुनवाई के लिए 30 सितंबर की तारीख तय की है। वहीं, चिन्मयानंद की जमानत की अर्जी पर भी इसी दिन सुनवाई होनी है। छात्रा को बुधवार को गिरफ्तार कर किया गया था। इसके बाद कोर्ट में उसकी जमानत अर्जी दाखिल की गई थी, जिसे खारिज कर दिया गया था।

उधर, चिन्मयानंद अब इलाज के लिए लखनऊ के एक अस्पताल में भर्ती हैं, हालांकि डॉक्टरों ने कहा है कि उनके हृदय की ऐंजियोप्लास्टी कराने की आवश्यकता नहीं है। गिरफ्तारी के बाद महिला को उसकी अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई से पहले ही बुधवार से ही शाहजहांपुर जेल रखा गया है। उसकी नियमित जमानत याचिका भी खारिज कर दी गई क्योंकि अदालत ने कहा कि वह गंभीर अपराध का सामना कर रही है।

एसआईटी ने कथित रूप से तीन दोस्तों के बयानों का हवाला देते हुए महिला को उगाही मामले का मास्टरमाइंड बताया है। एसआईटी का यह भी दावा है अनूप द्वारा शूट किए गए विडियो में खुद के शामिल होने की बात महिला ने कबूल की है। यूपी और बिहार में जबरन वसूली या उगाही को एक गंभीर अपराध के रूप में देखा जाता है।

इस तरह के मामलों में गैंगस्टर ऐक्ट लगता रहा है। एसआईटी का दावा है कि चिन्मयानंद पर बलात्कार के लिए मामला दर्ज नहीं किया गया था क्योंकि सीआरपीसी की धारा 164 के तहत महिला ने मैजिस्ट्रेट के सामने बयान नहीं दर्ज कराया है। अदालत के समक्ष अपना बयान फिर से दर्ज कराने की महिला की कोशिश नाकाम रही। चिन्मयानंद के वकीलों ने कहा कि वह अपने पहले के बयान में केवल ‘सुधार’ करना चाहती थी।

Check Also

अंडो के पैसों के लेनदेन में चले डंडे, दर्जनों घायल, पुलिस ने कई को हिरासत में लिया

लखनऊमोहनलालगंज के बेलहियाखेड़ा गांव में शुक्रवार सुबह आपसी विवाद को लेकर दो पक्षों में जमकर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *