Wednesday , September 18 2019, 8:17 AM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / क्राइम / चेकिंग अभियान: कोतवाली के गेट पर महिला सिपाही को स्कूटी सवार ने घसीटा

चेकिंग अभियान: कोतवाली के गेट पर महिला सिपाही को स्कूटी सवार ने घसीटा

लखनऊ
राजधानी लखनऊ की के गेट पर चालान के लिए स्कूटी रोकने के प्रयास में महिला थाने की सिपाही बुधवार दोपहर गंभीर रूप से घायल हो गई। उसे इलाज के लिए सिविल अस्पताल ले जाया गया। हालांकि स्कूटी चालक को बिना किसी कार्रवाई के ही छोड़ दिया गया।

महिला थाने की इंस्पेक्टर शारदा चौधरी के निर्देश पर सिपाही सीलम सिंह दोपहर में कोतवाली के गेट के सामने वाहनों की चेकिंग कर रही थी। हजरतगंज से लालबाग की ओर जा रहे एक को रुकने का इशारा किया तो वह भागने लगा। इसपर सीलम ने चलती स्कूटी को पीछे से पकड़कर रोकने का प्रयास किया, लेकिन युवक ने स्पीड बढ़ा दी। सीलम स्कूटी पकड़े हुए रोड पर गिरी और कुछ दूर तक घिसटती चली गई। आसपास के दुकानदारों ने शोर मचाया तो युवक ने स्कूटी रोकी। सहयोगी पुलिसकर्मियों ने सीलम को सिविल अस्पताल पहुंचाया और स्कूटी सवार युवक को पकड़कर महिला थाने ले जाया गया।

पूछताछ में युवक ने बताया कि राणा प्रताप रोड स्थित चंद्रावती अस्पताल का कर्मचारी है। यह सुनते ही युवक की खातिरदारी शुरू हो गई। सूत्रों का कहना है कि महिला थाने की अफसर और ज्यादातर स्टाफ इस अस्पताल में इलाज करवाती हैं, इसलिए बिना किसी कार्रवाई के युवक को छोड़ दिया गया। इंस्पेक्टर महिला थाना शारदा चौधरी का कहना है कि युवक ने माफी मांगी तो पीड़ित सिपाही ने माफ कर दिया, इसलिए कार्रवाई नहीं की गई। हालांकि सोशल मीडिया पर विडियो वायरल होने के बाद में पुलिस ने सफाई दी कि मामले में आरोपी की गाड़ी के कागज नहीं थे, इसलिए उसे सीज कर दिया गया है और आगे की कार्रवाई की जा रही है।

जुर्माना बढ़ने के बाद चेकिंग की मची होड़
जुर्माना बढ़ने के बाद पुलिस विभाग में वाहनों की चेकिंग के लिए होड़ मची हुई है। अबतक चालान और यातायात संचालन को ट्रैफिक पुलिस की जिम्मेदारी बताकर पीछा छुड़ाने वाली थाने की पुलिस उच्चाधिकारियों के निर्देश के बिना ही रोड पर उतरकर चालान काटने में दिलचस्पी दिखा रही है। सूत्रों का कहना है कि इसी होड़ के चलते हजरतगंज कोतवाली के गेट पर चेकिंग पॉइंट बना दिया गया है। कोतवाली पुलिस ने यहां गाड़ियां रोककर चालान काटना शुरू किया तो महिला थाने ने भी दावेदारी जताई। इसके बाद कार्रवाई दो शिफ्ट में होने लगी। एक पाली में कोतवाली पुलिस चेकिंग करती है, दूसरी पाली में महिला थाने पुलिसकर्मी तैनात हो जाती हैं। यही हालात हर थाने में चल रहे है। ट्रैफिक पुलिस सूत्रों का कहना है कि जिन चौराहों पर पुलिस बूथ बने हैं वहां थानों की पुलिस ट्रैफिककर्मियों चेकिंग पॉइंट नहीं लगाने दे रही है।

Check Also

कर्ज में डूबी मां, पहले बेटे और अब 1 लाख में बेटी को बेचा

Share this on WhatsApp नई दिल्ली कर्ज में डूबी मां ने एक लाख रुपये के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *