Friday , November 22 2019, 8:48 PM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / अन्य समाचार / जूनियर की आईडी से VP ने 38 करोड़ उड़ाए

जूनियर की आईडी से VP ने 38 करोड़ उड़ाए

बेंगलुरु
प्रतिष्ठित इन्वेस्टमेंट बैंकिंग कंपनी के वाइस प्रेजिडेंट पर 38 करोड़ रुपये का करने का आरोप लगा है। आरोपों के मुताबिक, कंपनी के इस अधिकारी ने किसी जूनियर की आईडी से लॉगिन करके ये पैसे उड़ा दिए। कर्नाटक के मराठाहल्ली की पुलिस ने 8 सितंबर को आरोपी अश्विनी झुनझुनवाला के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। कंपनी के लीगल हेड अभिषेक परशीरा की शिकायत पर पुलिस ने झुनझुनवाला को कस्टडी में ले लिया है।

शुरुआती जांच में पचा चला है कि अश्विनी झुनझुनवाला ने ऑनलाइन पोकर में पैसा हारने के बाद यह फ्रॉड किया। झुनझुनवाला गोल्डमैन सैक्स के लिए पिछले चार साल से काम कर रहे हैं। यह मामला तब सामने आया जब एक कर्मचारी ने दो संदिग्ध लेनदेन पर सवाल उठाए। 6 सितंबर को कंपनी ने इंटरनल रिव्यू किया तो मामला सामने आ गया। इसके बाद झुनझुनवाला को रिपोर्ट करने वाले तीन जूनियर्स- गौरव मिश्रा, सुजीत अपैया और अभिषेक यादव से भी पूछताछ की गई।

बहाने से ले लिया जूनियर्स का कंप्यूटर
शिकायत के मुताबिक, इन तीनों ने बताया कि झुनझुनवाला ने इनका काम रिव्यू करने के बहाने से उनका कंप्यूटर ऐक्सेस किया। कंप्यूटर पर लॉगिन करने के बाद झुनझुनवाला ने इन तीनों को खाना, पानी जैसी चीजों में उलझाए रखा। शिकायत के मुताबिक, गौरव ने कहा कि झुनझुनवाला ने उनसे पेमेंट रिकॉल के लिए सेटलमेंट रीकंसिलेशन सर्विस (एसआरएस) सेट अप करने को कहा। कंपनी में नए आए गौरव को यह पता नहीं था तो झुनझुनवाला ने गौरव का कंप्यूटर लेकर उसपर सेटअप कर दिया।

गौरव को शक हुआ तो उन्होंने ऑफिस में लोगों से भी इसकी चर्चा की। उन्हें पता चला कि झुनझुनवाला ने हॉन्ग कॉन्ग की एक कंपनी सिनर्जी विज्डम लिमिटेड के नामपर स्टैंडर्ड सेटलमेंट सेटअप कर दिया है। इसमें झुनझुनवाला ने गौरव की आईडी की इस्तेमाल किया। कंपनी ने पुलिस को बताया कि जब झुनझुनवाला को सीसीटीवी फुटेज और अन्य सबूतों की धमकी दी गई तो उसने गड़बड़ी करने की बात मान ली। झुनझुनवाला ने यह भी कहा कि इन तीनों में से एक इस सबमें शामिल है।

Check Also

सबरीमाला जाने वाली महिलाएं शहरी नक्‍सली: केंद्रीय मंत्री

तिरुवनंतपुरम में प्रवेश करने का ऐलान करने वाली कुछ महिला कार्यकर्ताओं पर निशाना साधते हुए …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *