Tuesday , October 15 2019, 4:54 PM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / अन्य समाचार / झांसी एनकाउंटर पर अखिलेश- यही है रामराज्य?

झांसी एनकाउंटर पर अखिलेश- यही है रामराज्य?

बांदाउत्‍तर प्रदेश के झांसी में युवक के कथित एनकाउंटर के बाद (एसपी) के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बुधवार को मृतक के परिवारवालों से मिलने उनके गांव करगुवां पहुंचे। इस मौके पर अखिलेश ने कहा कि पुष्पेंद्र की हत्या की गई है, इसे एनकाउंटर नहीं कहा जा सकता है। पुलिस ने हिंदू धर्म के विपरीत जाकर रात में पुष्पेंद्र का शव जला दिया, इसे रामराज्य तो नहीं कहा जाएगा?

एसपी चीफ ने कहा कि हम और हमारी पार्टी पुष्पेंद्र के परिवार को न्याय दिलाने में पूरी मदद करेंगे। पुष्पेंद्र के परिवार वाले चाहते थे कि हत्यारे पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो, लेकिन पुलिस प्रशासन ने ऐसा नही किया। मामले की जांच सिटिंग जजों से होनी चाहिए क्योंकि लोगों का विश्वास अब उत्तर प्रदेश पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों से उठ चुका है।

यादव ने कहा, ‘सोनभद्र में लोगों को इकट्ठा मार दिया गया, मऊ, बस्ती, नोएडा, और आजमगढ़ मे पुलिस ने कई लोगों का फेक एनकाउंटर किया। समझ में नही आता कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी- योगी आदित्यनाथ के राज में यह क्या हो रहा है। क्या इसी को रामराज्य कहते हैं?’

पढ़ें:

परिवारवालों को बंधाया ढांढस
इसके पहले अखिलेश यादव पुष्पेंद्र के गांव करगुवां पहुंचे। यहां उन्होंने परिवारवालों से मुलाकात की और उन्हें ढांढस बंधाया। साथ ही यह भरोसा दिया कि वह और समाजवादी पार्टी उनके साथ है। उन्होंने कहा कि इंसाफ पाने के लिए हर संभव लड़ाई लड़ी जाएगी। हत्यारे पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराकर जेल भिजवाया जाएगा।

फफक कर रो पड़ी शिवांगीकरगुवां में एसपी चीफ अखिलेश यादव के पहुंचते ही हजारों की भीड़ जमा हो गई। अखिलेश को देखकर पुष्पेंद्र की पत्नी शिवांगी फफक कर रो पड़ी। शिवांगी ने कहा, ‘अंकल मुझे न्याय दिला दो, हमे न्याय चाहिए, मेरे पति अपराधी नही थे, पुलिस ने उन्हें बेवजह मारा है।’ इस पर अखिलेश ने उन्हें धीरज बंधाया और कहा, ‘तुम्हें न्याय जरूर मिलेगा, हम और हमारी पार्टी तुम्हारे और तुम्हारे परिवार के साथ हैं।

प्रदीप जैन भी पहुंचे करगुवांझांसी के कांग्रेसी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य भी मंगलवार को देर रात दर्जनो कार्यकर्ताओं के साथ करगुवां पहुंचे। उन्होंने भी परिवारवालों से मिलकर लड़ाई में साथ देने का भरोसा दिया। उन्‍होंने कहा कि बीजेपी राज मे लोकतंत्र का गला घोंटा जा रहा है, घूसखोरी को छिपाने के लिए पुलिस ने एक बेगुनाह को मार डाला। शिवांगी बोलीं- एक लाख मे हुआ था सौदापुलिस की कथित मुठभेड़ में मारे गए पुष्पेंद्र की पत्नी ने बताया, ‘उसके पति व्यापार करते थे। बिजनस के मद्देनजर वह बालू आदि का भी काम करते थे। मोठ कोतवाल से बालू के व्यापार करने का सौदा एक लाख मे तय हुआ था, 50 हजार पहले दे आए थे। कोतवाल एक लाख के बजाए डेढ़ लाख मांगने लगा था। इस पर मेरे पति ने अपने 50 हजार रुपये वापस मांगे। इसी को लेकर वाद विवाद हुआ और एनकाउंटर दिखाकर मेरे पति हत्या कर दी गई।’करगुवां को बना दिया पुलिस छावनीझांसी के को पुलिस छावनी मे तब्दील कर दिया गया है। साथ ही झांसी और मोठ में भारी संख्या में पीएसी, आरएएफ जवान तैनात कर दिए गए हैं। आसपास के जिलों की पुलिस फोर्स को भी झांसी तलब कर लिया गया है। कानपुर परिक्षेत्र के एडीजी प्रेम प्रकाश पिछले कई दिनों से झांसी में ही डेरा डाले हुए हैं।
पार्टी नेताओं के साथ अखिलेश बनाएंगे प्लानअखिलेश यादव बुधवार को झांसी में ही रुकेंगे। इस दौरान वह पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओ से मिलेंगे। माना जा रहा है कि वह इस मामले में संघर्ष को धार देने के लिए कोई नई रणनीति बना सकते हैं, जिससे पीड़ित परिवार को न्याय मिल सके और यूपी की योगी सरकार पर हमला किया जा सके।

Check Also

RSS नेता की हत्या पर राजा सिंह- खून का बदला खून

कोलकाता पश्चिम बंगाल के में की परिवार समेत हत्या के मामले ने पूरी तरह से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *