Wednesday , October 16 2019, 5:52 PM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / राज्य / दिल्ली-एनसीआर / नशीले लड्डू खिलाकर लूट लेते थे ई-रिक्शा, 4 गिरफ्तार

नशीले लड्डू खिलाकर लूट लेते थे ई-रिक्शा, 4 गिरफ्तार

नई दिल्ली
यमुनापार के शाहदरा इलाके की पुलिस ने लुटेरों के एक ऐसे गिरोह को पकड़ा है, जो खासतौर से चालकों को टारगेट करता था। गिरोह के सदस्य खुद को रिक्शा चालक बताकर पहले ई-रिक्शा चलाने वालों से दोस्ती करते थे और फिर उन्हें नशीला पदार्थ देकर बेहोश करते और फिर उनका रिक्शा लूटकर फरार हो जाते थे।

पुलिस ने गिरोह के 4 लोगों को गिरफ्तार कर इनके पास से लूटे गए 9 ई-रिक्शा और एक मोबाइल बरामद किया है। इनमें से 5 ई-रिक्शों की पहचान हो चुकी है, जिनके गुम हो जाने बारे में अलग-अलग थानों में केस दर्ज किए गए थे। बाकी के 4 ई-रिक्शा को भी वेरिफाई किया जा रहा है।

डीसीपी (शाहदरा) अमित शर्मा के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान भजनपुरा निवासी अमित कुमार (30), मिंटो रोड इलाके के रहीसुद्दीन उर्फ शाकिर (26), गाजियाबाद लोनी के आदिल (26) और सलमान (24) के रूप में हुई है। इनमें से शाकिर के खिलाफ शाहदरा थाने में पहले से आर्म्स एक्ट का भी एक केस दर्ज है।

डीसीपी ने बताया कि 19 तारीख को मंडोली की रहने वाली नीतू नाम की एक महिला ने शाहदरा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उन्होंने बताया था कि 18 तारीख को उनके पति घर से ई-रिक्शा लेकर निकले थे, लेकिन वे देर रात तक नहीं लौटे। जब उन्होंने पति की खोजबीन शुरू की तो पता चला कि उन्हें बेहोशी की हालत में किसी ने जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया था, लेकिन उनका ई-रिक्शा और मोबाइल गायब था।

नीतू की शिकायत के आधार पर पुलिस ने नशीला पदार्थ खिलाकर चोरी का केस दर्ज किया और आरोपियों को पकड़ने के लिए एक टीम गठित की। टीम ने इलाके में ई-रिक्शा चलाने वालों से पूछताछ कर कुछ सुराग हासिल किए। इसी आधार पर शुक्रवार और शनिवार को इन चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। बाद में इनकी निशानदेही पर 9 ई-रिक्शे बरामद कर लिए गए, जो इन्होंने लूटे थे। पुलिस आरोपियों से इन सभी मामलों में पूछताछ कर रही है। साथ ही पीड़ितों से संपर्क करके उनके बयान भी लेने की कोशिश कर रही है।

Check Also

बाइक हटाने पर विवाद, प्राइवेट पार्ट पर मारा चाकू

नई दिल्ली भलस्वा डेयरी इलाके में बाइक हटाने के विवाद में आरोपियों ने एक लड़के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *