Wednesday , October 16 2019, 6:00 PM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / राज्य / पश्चिम बंगाल / पश्चिम बंगाल के विभिन्न क्षेत्रों के लोगों ने देश में एक भाषा पर जोर देने का विरोध किया

पश्चिम बंगाल के विभिन्न क्षेत्रों के लोगों ने देश में एक भाषा पर जोर देने का विरोध किया

कोलकाता
हिंदी दिवस के दो दिन बाद पश्चिम बंगाल के विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े 50 से अधिक लोगों ने राज्य की जनता का सभी भाषाओं को उचित सम्मान देने का आह्वान किया है और केवल एक भाषा थोपने की कोशिश नहीं करने की सलाह दी है।

कवि सुबोध सरकार, कवि-स्तंभकार विनायक बंदोपाध्याय, शिक्षाविद उर्मिमाला बासु और जगन्नाथ बसु तथा स्वतंत्र फिल्मकार प्रदीप्त भट्टाचार्य समेत जानेमाने लोगों ने सोमवार को फेसबुक पर बयान जारी किया और लोगों से उनके जीवन से बांग्ला भाषा को हटाने की किसी भी कोशिश का पुरजोर विरोध करने की अपील की। दो दिन पहले ही केंद्रीय गृह मंत्री ने देश में एक आम भाषा की वकालत की थी और कहा था कि हिंदी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है तथा देश को एक सूत्र में बांध सकती है।

बांग्लाभाषी लोगों ने बयान में आशंका जताई है, ‘निकट भविष्य में एक दिन आएगा जब हमारी भाषा, हमारी मातृभाषा, हमारी सबसे प्रिय बांग्ला भाषा खतरे में पड़ जाएगी।’ उन्होंने कहा कि कुछ तबकों की ओर से एक भाषा थोपने की धमकी वाली चालों का विरोध होना चाहिए। सरकार ने अलग से एक बयान में कहा,‘मैं का सम्मान करता हूं। लेकिन मैं उतना ही सम्मान मलयाली, मराठी, कोंकणी और देश में बोली जाने वाली अन्य सभी भाषाओं का करता हूं।’

उन्होंने कहा कि कोई भाषा छोटी या बड़ी नहीं हो सकती। सरकार ने कहा कि हिंदी हमेशा से समाज के सभी वर्गों को जोड़ने वाली भाषा रही है, वहीं अंग्रेजी का इस्तेमाल एक वर्ग विशेष करता आया है। उन्होंने कहा, ‘लेकिन रातों-रात क्या हो गया कि किसी को एक बार फिर ‘एक देश, एक भाषा’ का राग अलापना पड़ा।’

शाह ने सिलसिलेवार ट्वीट करके ‘एक राष्ट्र, एक भाषा’ की वकालत की थी। जिसके बाद देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन शुरू हो गये। डीएमके अध्यक्ष एम. के. स्टालिन और कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया तथा एच. डी. कुमारस्वामी ने हिंदी दिवस पर दिए गए शाह के बयान की आलोचना की है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने भी शनिवार को कहा था कि लोगों को सभी भाषाओं तथा संस्कृति का सम्मान करना चाहिए लेकिन अपनी मातृभाषा की कीमत पर नहीं।

Check Also

बंगाल भाजपा ने पश्चिम बंगाल सरकार पर दुर्गा पूजा त्योहार के आयोजन को लेकर निशाना साधा

कोलकाता, 11 अक्टूबर (भाषा) पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने शुक्रवार को राज्य …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *