Wednesday , October 16 2019, 6:03 PM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / राज्य / पंजाब / बसों में महिला सुरक्षा के लिए थर्ड जेंडर

बसों में महिला सुरक्षा के लिए थर्ड जेंडर

पिछले कुछ दिनों में बसों में महिलाओं की सुरक्षा का मुद्दा एक बड़ा सवाल बनकर सामने आया है। सरकार इसका अनूठा हल लेकर सामने आई है। अगर सब कुछ ठीक रहा तो पंजाब सरकार जल्द ही बसों में महिलाओं की सुरक्षा के लिए को नियुक्त कर सकती है।

बताया जा रहा है कि पंजाब सरकार राज्य की बसों में कंडक्टर और सुरक्षाकर्मी के तौर पर थर्ड जेंडर की नियुक्ति करने की योजना बना रही है। अगर यह योजना लागू होती है तो ऐसा करने वाला पंजाब देश का पहला राज्य बन जाएगा।

पंजाब हाईकोर्ट द्वारा नियुक्त राज्य के यातायात सलाहकार नवदीप असीजा ने एक मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट के सामने यह विचार रखा था।

2011 की जनगणना के मुताबिक थर्ड जेंडर पंजाब की कुल जनसंख्या का 2 फीसदी हैं। साल 2010 में ही पंजाब सरकार ने सरकारी नौकरियों के आवेदन पत्र में थर्ड जेंडर के लिए अलग से कैटिगरी बनाई थी।

उल्लेखनीय है कि नवदीप असीजा का यह विचार सुप्रीम कोर्ट के उस निर्देश का भी समर्थन करता है, जिसमें कोर्ट ने कहा था कि देश का संविधान जाति, धर्म और लिंग के आधार पर बिना भेदभाव किए हरेक नागरिक को समान अवसर मुहैया कराता है, और यही प्रावधान टांसजेंडर्स को भी शिक्षा और सरकारी नौकरियों में जगह देने के लिए निर्देशित भी करता है।

नवदीप असीजा ने बताया कि प्राचीन समय में भी महिलाओं की सुरक्षा के लिए थर्ड जेंडर्स की नियुक्ति की जाती थी और वे शारीरिक तौर पर भी पर्याप्त रूप से सक्षम होते हैं।

गौरतलब है कि पंजाब के मोगा में चलती बस से छेड़छाड़ के बाद एक किशोरी को उसकी मां के साथ नींचे फेंक दिया गया था जिससे किशोरी की मौत हो गई थी।

Read in English:

Check Also

दोस्त के साथ बीयर पी रहे युवक की गला रेतकर हत्या

वरिष्ठ संवाददाता, गुड़गांव सेक्टर-109 में लुमिनी ब्रिक्स सोसायटी के पास तेजधार हथियार से गला रेतकर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *