Wednesday , September 18 2019, 8:21 AM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / देश दुनिया / राष्ट्रीय / युवती पर गिरा पार्टी का होर्डिंग, दर्दनाक मौत

युवती पर गिरा पार्टी का होर्डिंग, दर्दनाक मौत

चेन्नैअवैध होर्डिंग ने चेन्नै में एक 24 वर्षीय युवती की जान ले ली। युवती अपने ऑफिस से स्कूटी पर घर जा रही थी। रास्ते में एआईएडीएमके का अवैध रूप से होर्डिंग लगाया गया था। अचानक होर्डिंग की चपेट में आई सॉफ्टवेयर इंजिनियर सड़क पर गिर पड़ी। युवती के गिरते ही पीछे से तेज रफ्तार आ रहे एक टैंकर ने उसे रौंद दिया। इस घटना के बाद चेन्नै के लोगों में काफी नाराजगी है। विपक्ष ने भी एआईएडीएमके को निशाने पर लिया है।

पुलिस ने बताया कि आर सुभाश्री कांथाचेवदी में एक सॉफ्टवेयर फर्म में काम करती थीं। वह सुबह छह बजे ऑफिस गई थीं और दोपहर दो बजे शिफ्ट पूरी होने के बाद ऑफिस से निमिलीचेरी, क्रोमपेट स्थित अपने घर जा रही थीं। पल्लवरम थोरइपक्कम रेडियल रोड पर सत्ताधारी पार्टी एआईएडीएमके का एक होर्डिंग अवैध रूप से लगाया जा रहा था। होर्डिंग गिरने से सुभाश्री अपनी स्कूटी से फिसल गईं और पीछे से आ रहे पानी के टैंकर ने उसे रौंद दिया।

अगले महीने जाने वाली भी कनाडा
सुभाश्री को आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि वह अगले महीने कनाडा जाने वाली थीं और बहुत खुश थीं। एआईएडीएमके के पूर्व पार्षद जयगोपाल ने अपने बेटे की शादी के लिए कई बैनर लगाए थे। इस घटना के तुरंत बाद लोगों ने उन होर्डिंग्स को फाड़ दिया। इस इलाके में लगभग पचास बैनर और होर्डिंग्स लगाए गए थे। कार्यकर्ता भी कुछ बैनर उतारते हुए दिखाई दिए।

पहले सिर्फ ड्राइवर के खिलाफ दर्ज हुई थी एफआईआर
पुलिस ने पहले 28 वर्षीय लॉरी चालक मनोज यादव पर लापरवाही से गाड़ी चलाने का मामला दर्ज किया। बाद में चेन्नै कॉर्पोरेशन के डिविजन 188 के सहायक अभियंता अमलराज की शिकायत के आधार पर जयगोपाल के खिलाफ दूसरा मामला दायर किया। पुलिस ने मामला तमिलनाडु ओपन प्लेसेज (डिफिगरेशन प्रिवेंशन) ऐक्ट, 1959 की धारा 4 के तहत दर्ज किया है।

इस बीच, चेन्नै नगर निगम ने भी सड़क पर एक अवैध बैनर लगाने के लिए एआईएडीएमके के पदाधिकारी के खिलाफ एक अलग मामला दर्ज किया है। उन्होंने चेन्नै सिटी म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन ऐक्ट, 1919 की धारा 326 के तहत एक मामला दर्ज किया। यातायात ऐक्टिविस्ट एस रामासामी ने सड़क पर अवैध बैनरों के लिए एआईएडीएमके कार्यकर्ताओं, निगम अधिकारियों और पुलिस कर्मियों के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज करने की औपचारिक शिकायत दर्ज की है।

इस खबर को

Check Also

पुलिसवाले ने नहीं पहनी थी सीट बेल्‍ट, भीड़ ने घेरा

Share this on WhatsApp मुजफ्फरपुर जब से संशोधित लागू किया गया है, तब से उसमें …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *