Friday , November 22 2019, 12:55 AM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / राजनीति / यूपीः रोजाना डेढ़ करोड़ खा रही हैं माननीयों के काफिले की गाड़ियां, लगेगी लगाम!

यूपीः रोजाना डेढ़ करोड़ खा रही हैं माननीयों के काफिले की गाड़ियां, लगेगी लगाम!

लखनऊ
सड़कों पर मंत्रियों और अफसरों की गाड़ियों का लाव-लश्कर तो देखा ही होगा। जिसके काफिले में जितनी गाड़ियां, उतना बड़ा उसका स्टेटस…मगर क्या आपको मालूम है कि माननीय व साहबों के काफिले में चलने वाली इन गाड़ियों पर हर साल 632 करोड़ रुपये पेट्रोल-डीजल व मेंटेनेंस के लिए खर्च होते हैं। यानी रोजाना करीब 1.5 करोड़ रुपये। इस भारी-भरकम रकम पर वित्त विभाग कैंची चलाने की तैयारी कर रहा है।

वित्त मंत्री ने हर विभाग से पेट्रोल-डीजल पर खर्च होने वाली रकम का ब्योरा मांगा है। इसके अलावा वित्त विभाग अलग-अलग मदों में होने वाले फिजूल खर्चों को कम करने की तैयारी कर रहा है। ताकि बचने वाली रकम को विकास कार्यों पर खर्च किया जा सके।

हर विभाग से मिलती हैं गाड़ियां
राज्य सरकार में कई ऐसे मंत्री और अफसर हैं जिनके पास एक से ज्यादा विभागों का चार्ज है। ज्यादातर मंत्री और अफसर चार्ज वाले हर एक विभाग की गाड़ियों का इस्तेमाल अपने काफिले में करते हैं। कई बार तो नेता और अफसर का स्टाफ भी अलग-अलग विभाग से मिलने वाली गाड़ियों का इस्तेमाल करता है, जिसकी वजह से अनावश्यक खर्च होता है। इसके अलावा यात्रा व्यय व निदेशालयों पर होने वाली फिजूलखर्ची को भी राज्य सरकार कम करेगी। वित्त विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक कई विभागों में ऐसे निदेशालय हैं, जिनका ज्यादा काम नहीं है। ऐसे में इन्हें मर्ज किया जाएगा।

यात्रा पर भी वित्त विभाग की नजर
विभागों को यात्रा व्यय के मद में 2019-20 में करीब 622 करोड़ रुपये का बजट दिया गया है। जो पिछले साल के मुकाबले करीब 30 प्रतिशत ज्यादा है। 2018-19 में यात्रा व्यय के लिए 542 करोड़ रुपये का बजट था। वहीं, 2017-18 में यह बजट 435 करोड़ रुपये का था।

Check Also

मंत्री के कथित आडियो पर प्रियंका ने सरकार को घेरा

लखनऊ कांग्रेस महासचिव ने उत्तर प्रदेश सरकार की मंत्री स्वाती सिंह द्वारा एक पुलिस अफसर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *