Tuesday , December 10 2019, 7:15 AM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / राज्य / छत्तीसगढ़ / रायपुरः महासमुंद के विधायक की छूटी फ्लाइट, तो एयर इंडिया की महिला स्टाफ से की अभद्रता, जांच

रायपुरः महासमुंद के विधायक की छूटी फ्लाइट, तो एयर इंडिया की महिला स्टाफ से की अभद्रता, जांच

रायपुर
छत्तीसगढ़ कांग्रेस के विधायक विनोद एसएल चंद्रकार और उनके गुर्गों ने शनिवार को रायपुर हवाई अड्डे पर जमकर हंगामा किया। आरोप है कि उन्होंने एक महिला एयरलाइन कर्मचारी के साथ दुर्व्यवहार किया और उसे अपशब्द कहे। विधायक और उनके गुर्गे की फ्लाइट छूट जाने के कारण गुस्से में थे।

वीवीआईपी कल्चर का यह ताजा मामला शनिवार को रायपुर एयरपोर्ट पर नजर आया। बताया जा रहा है कि चंद्रकार और उनके चार अन्य सहयोगी बोर्डिंग गेट पर पहुंचे। उन्हें एयर इंडिया की सहायक कंपनी एलायंस एयर द्वारा संचालित फ्लाइट 9I-728 से रांची के लिए उड़ान भरनी थी लेकिन उन लोगों के वहां पहुंचने से पहले ही फ्लाइट एयरपोर्ट से निकल चुकी थी। हालांकि महासमुंद के विधायक चंद्रकार ने अपने ऊपर लगाए गए आरोपों का खंडन किया है और एआई प्रबंधन से घटना की शिकायत की है।

एयर इंडिया के प्रवक्ता धनंजय कुमार ने बताया कि मामला हमारे संज्ञान में आया है। एआई प्रबंधन ने इसे गंभीरता से लिया है और विस्तृत जांच के आदेश दिए हैं। जांच रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

विधायक की शिकायत पर प्रतिक्रिया देते हुए एयरलाइन ने अपने प्रबंधन को प्रकरण का विवरण दिया। रिपोर्ट में कहा गया है कि विधायक का बोर्डिंग कार्ड चार अन्य लोगों के साथ जारी किया गया था। पांचों लोगों को 9I-728 से उड़ान भरने थी। फ्लाइट रवाना होने के बाद वे बोर्डिंग गेट पर चढ़ गए और फिर उन्होंने चिल्लाना शुरू कर दिया। उन लोगों ने अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया। एक महिला अधिकारी को सार्वजनिक तौर पर अपशब्द कहकर अपमानित किया। रिपोर्ट में कहा गया है कि चंद्रकार ने धमकी दी कि वह सत्ता पक्ष के विधायक हैं। उनमें से एक स्टाफ ने उनका (विधायक) पहचान पत्र पकड़ा। माननीय विधायक ने महिला स्टाफ के मोबाइल से स्टेशन प्रबंधक से बात की और बाद में उसका मोबाइल वापस करने से इनकार कर दिया।

वहीं चंद्रकार ने कहा, ‘मैं 5.55 बजे समय पर हवाई अड्डे पर पहुंचा। मुझे सुरक्षा में देरी हुई क्योंकि मेरे बैग को दो बार वहां चेक किया गया था। मेरे साथ यात्रा कर रहे लोगों में से एक बोर्डिंग गेट पर पहुंचा और एआई अधिकारी से अनुरोध किया कि थोड़ा इंतजार करें क्योंकि हम बस कुछ ही मिनट दूर थे। हो सकता है उसी में कुछ ऊंची बात हो गई होगी। ईगो से भरी उस महिला ने अधिकारी ने बोर्डिंग बंद कर दी और हमारे बिना ही फ्लाइट रवाना कर दी।’

एआई की रिपोर्ट में कहा गया है कि महिला अधिकारी को विधायक और उनके समर्थकों के व्यवहार से बहुत परेशानी उठानी पड़ी। सीआईएसएफ और एक अन्य कर्मचारी ने उसे किसी तरह हवाई अड्डे के पिछले दरवाजे से बाहर निकाला। वहां उसे रात में 8.30 बजे लगभग दो किलोमीटर बारिश में भीगते हुए पैदल जाना पड़ा।

इस खबर को

Check Also

हाथी ने ली महिला की जान

कोरबा, चार दिसंबर (भाषा) छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में हाथी ने महिला को पटककर मार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *