Saturday , November 23 2019, 2:55 AM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / राज्य / उत्तर प्रदेश / विधानसभा सदस्यता खत्म हुई तो फिर लड़ूंगा जसवंतनगर सीट से चुनाव: शिवपाल

विधानसभा सदस्यता खत्म हुई तो फिर लड़ूंगा जसवंतनगर सीट से चुनाव: शिवपाल

इटावा
प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने बुधवार को कहा कि अगर समाजवादी पार्टी उनकी विधानसभा सदस्यता रद्द कराती है तो वह दोबारा भी सीट से चुनाव लड़ेंगे। शिवपाल ने बुधवार को इटावा में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि वह पहले ही समाजवादी पार्टी से इस्तीफा दे चुके हैं और अगर विधायकी खत्म होती है तो वह फिर जसवंतनगर सीट से ही दावेदारी करेंगे। शिवपाल ने यह भी कहा कि जो भी एसपी के टिकट पर यहां से उनके खिलाफ चुनाव लड़ेगा उसे हार का सामना करना पड़ेगा।

बता दें कि जसवंतनगर की सीट लंबे वक्त से समाजवादी पार्टी का गढ़ क्षेत्र मानी जाती है। पूर्व में कई बार शिवपाल सिंह यादव एसपी के टिकट पर यहां से चुनाव लड़ते रहे हैं। 2017 के चुनाव में भी शिवपाल ने समाजवादी पार्टी के टिकट पर यहां से चुनाव जीता था। शिवपाल अभी यूपी विधानसभा के सदस्य हैं, लेकिन एसपी ने उनकी सदस्यता को चुनौती दी है।

एसपी ने दी है सदस्यता खत्म करने की याचिका
बीते साल शिवपाल सिंह यादव ने एसपी से अलग होकर अपनी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी बना ली थी। शिवपाल की इस बगावत के बाद कई बार एसपी चीफ अखिलेश यादव और उनके बीच खुले तौर पर मतभेद देखने को मिले थे। हाल ही में समाजवादी पार्टी ने यूपी विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित के पास एक याचिका दायर की, जिसमें शिवपाल सिंह यादव की विधानसभा सदस्यता रद्द करने की मांग की गई थी।

इटावा में कहा- आने वाली है मेरी सरकार
शिवपाल सिंह यादव बुधवार को इटावा में जिला मुख्यालय पर सरकार विरोधी प्रदर्शनों में भी शामिल हुए। यहां सभा को संबोधित करते हुए शिवपाल ने कहा कि 2022 में प्रदेश में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी। चुनाव में जीत का दावा करते हुए शिवपाल ने कहा कि प्रदेश में उनकी सरकार आने के बाद प्रदेश की जनता को सुविधाएं दी जाएंगी। इसके अलावा प्रदेश में उद्योग और नौकरियों में भी विकास होगा। मुख्यालय पर धरने पर पहुंचे शिवपाल ने प्रदेश में सरकार पर कई आरोप लगाए। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश में थाने और तहसीलें दलाली के अड्डों जैसे बन गए हैं और भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है। इसके अलावा शिवपाल ने यहां एसपी और बीजेपी पर मिलीभगत करने का आरोप भी लगाया और कहा कि प्रदेश के राजनीतिक दल सत्ता से डरने लगे हैं।

Check Also

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव ने गाजियाबाद नगर निगम के दो निरीक्षकों को निलंबित किया

गाजियाबाद, 18 नवंबर (भाषा) उत्तर प्रदेशके मुख्य सचिव आर के तिवारी ने सोमवार को औचक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *