Friday , November 15 2019, 8:12 AM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / स्वास्थ्य चिकित्सा / सर्दियों में बढ़ जाता है साइनस का दर्द, इन घरेलू चीजों से पाएं राहत

सर्दियों में बढ़ जाता है साइनस का दर्द, इन घरेलू चीजों से पाएं राहत

नाक से जुड़ी एक समस्या है। इसमें पीड़ित की नाक और आसपास और सिर के आधे भाग में दर्द होने लगता है। सर्दियों में यह समस्या अधिक बढ़ जाती है, इसमें आपका नाक बंद होना, सिर में दर्द और नाक से पानी गिरने जैसे लक्षण होते हैं। अक्सर लोग साइनस के दर्द को गंभीरता से नहीं लेते हैं। लेकिन इसकी अनदेखी करने के आपको और भी गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। आइए यहां हम आपको ऐसा नुस्खा बता रहे हैं, जो आपके साइनस के दर्द को कम करने का एक प्राकृतिक उपाय है।

शहद
घर में रखी चुनिंदा कुछ प्राकृतिक चीजों से आप साइनस की समस्या से निजात पा सकते हैं। शहद में जीवाणुरोधी, ऐंटीवायरल और ऐंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं। नियमित रूप से इसका सेवन नाक और गले में होने वाले संक्रमण से आपका बचाव करेगा।

सेब का सिरका
सेब का सिरका भी साइनस के लिए लाभदायक दवा है। सेब के सिरके में मौजूद औषधीय गुण होते हैं जौ साइनस की समस्या से निजात दिला सकते हैं। सेब का सिरका एक सटीक घरेलू उपचार है। सेब का सिरका बनाना बेहद आसान है और इसे आप अपने घर में ही बना सकते हैं।

प्याज का रस
साइनस संक्रमण से निजात पाने के लिए आप प्याज के रस का इस्तेमाल कर सकते हैं। प्याज में जीवाणुरोधी गुण पाए जाते हैं, जो साइनस संक्रमण के इलाज के लिए उपयोगी माने गए हैं। साइनस का इलाज करने की यह एक असरदार दवा है।

पढ़ें:

प्राकृतिक तेल
साइसन का उपचार विभिन्न प्राकृतिक तेलों से किया जा सकता है। इसमें लैवेंडर, पुदीना, नींबू, पाइन व लौंग आदि शामिल हैं। ये तेल काफी लाभदायक होते हैं, जिनसे छाती, नाक व सिर की मालिश करने से आराम मिलता है। नियमित रूप से इन तेलों का इस्तेमाल लाभ पहुंचाएगा।

लेमन बाम
साइनस की समस्या से निजात पाने के लिए लेमन बाम भी एक गुणकारी नुस्खा है। यह पुदीने के परिवार का ही एक बारहमासी पौधा है, जिसका वैज्ञानिक नाम मेलिसा ओफ्फिसिनालिस है। इसका इस्तेमाल बुखार, जुकाम या फ्लू के उपचार के लिए किया जाता है।

Check Also

पेट खराब होने से बच्चे को हो सकती है गंभीर बीमारी, जानें लक्षण और इलाज

बच्चे को सही से पॉटी न आना या बहुत दिनों तक पेट खराब रहने से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *