Wednesday , September 18 2019, 8:48 AM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / क्राइम / सास पर फायर के बाद खुद को गोली से उड़ाया

सास पर फायर के बाद खुद को गोली से उड़ाया

लखनऊ
गोमतीनगर विस्तार के अलकनंदा अपार्टमेंट निवासी अभिषेक सिंह ने शनिवार देर रात लाइसेंसी रिवॉल्वर से खुद को गोली मारकर जान दे दी। खुदकुशी से पहले अभिषेक ने सास चंदा देवी पर भी फायर किया था। सास के अनुसार बेटी प्रज्ञा ने फोन पर अभिषेक के नशे में धुत होने के बाद मारपीट और रिवॉल्वर निकालने की सूचना दी थी।

बहू के साथ मौके पर पहुंची चंदा को बेटी अपार्टमेंट के नीचे मिली थी। तीनों समझाने इरादे से पांचवें फ्लोर पर स्थित फ्लैट में पहुंचीं। इस दौरान अभिषेक ने पत्नी की भाभी पर फायर किया। गोली मिस होने पर सास को निशाना बनाकर कर फायर किया। गोली घुटने के ऊपर लगने लगी। इसके बाद उसने कनपटी से रिवॉल्वर सटाकर खुद को गोली से उड़ा लिया। घायल चंदा के अनुसार बीजेपी सांसद बृज भूषण सिंह उनके चचेरे भाई हैं।

मूलरूप से जौनपुर निवासी अभिषेक सिंह कई वर्षों से गोमतीनगर विस्तार स्थित अलकनंदा अपार्टमेंट के क्यू ब्लॉक में फ्लैट नंबर-503 में रहता था। 2005 में उसकी शादी लालबाग निवासी प्रज्ञा से हुई थी। दोनों के एक बेटी शानवी सिंह (12) एक निजी स्कूल में कक्षा छह की छात्रा है। परिवारीजनों के अनुसार निजी ऐड कंपनी में काम करने वाला अभिषेक काफी समय से बीमार चल रहे थे। इसके चलते कुछ महीने से घर पर आराम कर रहे थे। कुछ आराम होने पर हाल ही में बतौर मैनेजर दूसरी कंपनी जॉइन की थी।

मिस हो गए थे पहले दो फायर
लालबाग निवासी सास चंदा देवी के मुताबिक कुछ वर्षों से अभिषेक का व्यवहार प्रज्ञा के प्रति खराब हो गया था। दोनों में अक्सर विवाद होता था। गुस्से में आकर कई बार प्रज्ञा से मारपीट भी करता था। शनिवार रात करीब आठ बजे से ही दोनों में किसी बात को लेकर झगड़ा होने लगा। बात बढ़ती देख प्रज्ञा ने मां को फोन किया था। कॉल भाभी अनामिका ने रिसीव की। प्रज्ञा ने बताया कि नशे में धुत होकर अभिषेक मारपीट कर रहे हैं। इस दौरान फायर भी करना चाहा लेकिन गोली नहीं चली। मारपीट होती देख बेटी डरकर रोने लगी और प्रज्ञा उसे लेकर अपार्टमेंट के नीचे चली आई।

जानकारी होते ही चंदा अपने साथ बहू अनामिका को लेकर टैक्सी से अलकनंदा अपार्टमेंट पहुंची। बेटी नीचे ही खड़ी थी। इसके बाद तीनों लोग समझाने के इरादे से ऊपर पहुंचे। फ्लैट का दरवाजा खुला था। अभिषेक इतने गुस्से में था कि कुछ सुनने को तैयार नहीं हुआ। समझाने के दौरान भड़क उठा और लाइसेंसी रिवॉल्वर से अनामिका पर फायर कर दिया। गनीमत रही कि गोली मिस हो गई। बचाने के इरादे से आगे आई सास पर फायर झोंक दिया। गोली बाएं पैर की जांघ पर लगते ही चंदा खून से लथपथ होकर गिर पड़ी। इसके बाद तीनों किसी तरह फ्लैट से बाहर भागे।

फायर सुनकर पहुंचे लोग
खून से लथपथ चंदा जीने पर बैठ गईं। फायर की आवाज सुनकर अपार्टमेंट के लोग भी पहुंच गए। किसी के कुछ समझने से पहले ही फ्लैट से एक और फायर की आवाज आई। लोगों के अंदर पहुंचने पर अभिषेक खून से लथपथ पड़ा था। पुलिस को सूचना देने के साथ ही अपार्टमेंट के लोग अपनी गाड़ियों से अभिषेक और चंदा को सिविल अस्पताल ले गए। कुछ ही देर में पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। इसके बाद अस्पताल पहुंची। इलाज शुरू होने से पहले अभिषेक की मौत हो चुकी थी। वहीं डॉक्टरों ने चंदा को ट्रॉमा सेंटर में रेफर कर दिया गया। डॉक्टरों के अनुसार घायल की हालत खतरे से बाहर है।

शव लेकर गए जौनपुर
बेटे की मौत की जानकारी होते ही पिता अनिल परिवार के अन्य लोगों के साथ शनिवार रात जौनपुर से लखनऊ आ गए। रविवार सुबह पोस्टमॉर्टम के बाद शव परिवार के सुपुर्द कर दिया गया। आरोप है कि सिविल अस्पताल में पंचनामा करने वाले शख्स ने रुपये मांगने शुरू कर दिए। इतना ही नहीं बॉडी कवर करने के लिए पॉलीथीन और सफेद कपड़े तक के लिए मनमाने रुपये वसूले गए। इसके बाद परिवारीजन अंतिम संस्कार के लिए शव लेकर जौनपुर चले गए।

नई नौकरी मिलने पर किया था फोन
गोमतीनगर विस्तार में ही रहने वाले छोटे भाई अभिजीत ने बताया कि शनिवार देर रात जानकारी मिलते ही भाई को देखने पहुंचे। सिविल अस्पताल में भाई की मौत का पता चलते ही अभिजीत बेसुध होकर गिर पड़े। मौके पर मौजूद लोगों ने उन्हें संभाला। अभिजीत के अनुसार शांत स्वभाव का अभिषेक करीब बारह साल पहले पढ़ाई पूरी करने के बाद नौकरी करने लखनऊ आ गया था। कुछ दिनों से घर पर रह रहे अभिषेक ने शुक्रवार शाम ही नई नौकरी मिलने की जानकारी दी थी। फोन पर बात होने के दौरान वह काफी खुश नजर आ रहा था। समझ नहीं आ रहा कि आखिर उसने ऐसा क्यों किया।

Check Also

कर्ज में डूबी मां, पहले बेटे और अब 1 लाख में बेटी को बेचा

Share this on WhatsApp नई दिल्ली कर्ज में डूबी मां ने एक लाख रुपये के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *