Friday , November 15 2019, 5:53 AM
ब्रेकिंग न्यूज
Hindi News / देश दुनिया / अंतररास्ट्रीय / 'US के हटने से पैरिस अग्रीमेंट का महत्व कम'

'US के हटने से पैरिस अग्रीमेंट का महत्व कम'

मास्को
पर पैरिस समझौते से अमेरिका के बाहर होने को लेकर चीन ने खेद जताया है, वहीं अन्य देशों के साथ रूस ने भी आलोचना करते हुए कहा कि इससे समझौते का महत्व घट गया है। राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के प्रवक्ता दमित्री पेसकोव ने संवाददाताओं से कहा, ‘इस समझौते का महत्व घटना बहुत गंभीर बात है क्योंकि उत्सर्जन के मामले में वह अग्रणी देश है।’

उन्होंने कहा, ‘और दुनिया में सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के बिना किसी भी तरह के जलवायु समझौते पर बात करना बहुत बहुत कठिन है ।’ उधर, चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने मंगलवार को एक नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हमउम्मीद करते हैं कि अमेरिका और जिम्मेदारी ले सकता है और नकारात्मक ऊर्जा देने के बजाय बहुपक्षीय सहयोग प्रक्रिया में अधिक योगदान कर सकता है।’

अमेरिका ने पैरिस जलवायु समझौते से अलग होने की सूचना औपचारिक रूप से संयुक्त राष्ट्र को दे दी है। ऐतिहासिक पैरिस समझौते से अलग होने की घोषणा ट्रंप एक जून 2017 को कर चुके थे, लेकिन इसकी प्रक्रिया सोमवार को इसकी औपचारिक अधिसूचना के साथ शुरू हुई। अब, अमेरिका चार नवंबर 2020 को इस समझौते से अलग हो जाएगा।

Check Also

ब्राजील: रिहाई के बाद विरोधियों पर भड़के लूला

साओ बर्नार्डो दा कैम्पो और वामपंथी नेता ने शनिवार को मजदूर संघ के गढ़ में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *